शिक्षा संस्थान

"भारतीय मैथिल समाज - शिक्षा संस्थान" संस्थाक एक पैघ विभाग अछि जकरा शुरू करबाक लेल विशेष मात्रा में राशि के जरूरत अछि, ताहि लेल विकास कोष आ ग्रामीण उद्योग द्वारा प्राप्त कोष सॅ एकर शुरूआत कैल जायत । एहि विभागक के मुख्य काज अछि ग्रामीण क्षेत्र में उच्चतम आ आधुनिक शिक्षा व्यवस्था ।

ओना त गाम-घर में लगभग हर जगह सरकार के तरफ़ सॅ शिक्षा व्यवस्था उपलब्ध अछि, मुदा एखुनका समय में अधिकांश लोक चाहैत छथि जे हुनक बच्चा सब के सेहो शहरी तरीका जेना अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में पढ़ा सकैथ, जै ठाम सब तरहक सुविधा उपलब्ध हो जेना शहर के कोनो पैघ नीक विद्यालय में रहैत अछि । एहि तरहक किछु नीक व्यवस्था ग्रामीण क्षेत्र में संस्था स्वयं क सका इएह उद्देश्य अछि, जै में छात्रावास के सुविधा सेहो रहै जै सॅ दूरक छात्र सब सेहो पढ़ि सका, कारण एहन तरहक व्यवस्था बहुत कम संख्या में संभव अछि, जहग-जगह पर नै।

 

विकास कोषग्रामीण उद्योग शिक्षा संस्थानस्वास्थ्य सेवा संस्थान

Keywords: Bharatiya Maithil Samaj, Mithila, Mithala, Maithali, Maithili, Mithlanchal, Mithilanchal, Maithili Language, Maithili Sahitya,
Bramhan, Bramhin, Gramin Udyog, Siksha Sansthan, Swasthya Seva Sansthan, Madhubani Art, Madhubani Paintings, Mithila Paintings